MAT क्या है मेट एग्जाम की पूरी जानकारी

0

mat kya hai दोस्तों हमारे देश के स्टूडेंट को अपने करियर के प्रति बड़ा फ़िक्र होता है और वो चाहता है की में आपने लाइफ को सफल बनाये तो ऐसे में हर किसी का सपना अलग अलग होता है किसी को बहुत बड़ा पोस्ट पाना होता है तो किसी स्टूडेंट को छोटा पोस्ट पाना होता है तो ऐसे में आज की इस आर्टिकल में मैं आपको बताने वाला हूँ की मेट (MAT) क्या होता है (What is MAT information in hindi), (What are the requirement for MAT exam in hindi) और (How to prepare for MAT exam in hindi) इसका एग्जाम कैसे दे और इसकी रेक्विरेमेंट (MAT requirement) क्या है।

मेट का एग्जाम थोड़ा टफ मन जाता है क्यूंकि ये एक हाई लेवल की एग्जाम होती है दराअशल इस एग्जाम को वही लोग देते है जो अपनी ग्रेजुएशन की पढाई अच्छे से किये होते है क्यूंकि इसका एग्जाम ग्रेजुएशन डिग्री लेवल की होती है इस एग्जाम को हर कोई पास नहीं कर सकता है.

इस एग्जाम को पास करने के लिए आपको बहुत जायदा धेयान से पढाई करना होगा और जब आप ग्रेजुएशन क्लियर कर लेते है इसके बाद इस एग्जाम को देते है खेर में आपको पूरी डिटेल्स में जानकारी दूंगा जिससे आपको मेट MAT के एग्जाम के रेलेटेड आपको थोड़ा भी परेशानी नहीं होगी।

mat kya hai
pixabay

मेट क्या है (What is MAT in Hindi)

दोस्तों ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद मेट MAT की एग्जाम दे सकते है मेट (MAT) का फुल फॉर्म मैनेजमेंट एप्टीटुड टेस्ट (Management Aptitude Test) होता है यह इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट (IIM) कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए एग्जाम है दोस्तों क्या आपको मालूम है.

मेट (MAT) एक टॉप लेवल की एंट्रेंस एग्जाम है ये नेशनल कॉलेज के टॉप लेवल के किसी भी कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए दिया जाता है यानी की आपको पहले मेट एग्जाम को क्लियर करना होगा यानी अगर आप IIM जैसे टॉप लेवल कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते है तो आपको मेट एग्जाम क्लियर करना होगा।

मेट एग्जाम टेस्ट साल में चार बार कराया जाता है All India Management Association द्वारा नेशनल स्टार पर ये परीक्षा को कंडक्ट कराई जाती है मेट एग्जाम की चार सेक्शन होते है।

जेईई मेन की जैड़ा जानकारी के लिए जेईई मेन की पूरी जानकारी ये पोस्ट जरूर पढ़े

मेट एग्जाम की योग्यता (MAT Exam Eligibility)

उम्मीदवार (Candidate) के पास कम से कम 50% से 60% अंकों के साथ ग्रेजुएशन पास होनी चाहिए अगर आप अपने ग्रेजुएशन के लास्ट साल में तो भी ये एग्जाम दे सकते है वैसे सारा कुछ निचे डिटेल्स में है।

  • 12th पास करे अच्छे मार्क्स से
  • ग्रेजुएशन (BA BSc BCOM BTech etc) पास करे किसी भी सब्जेक्ट से और अच्छे मार्क्स लाये
  • ग्रेजुएशन के लास्ट साल के स्टूडेंट भी इस एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते है

मेट एग्जाम की सिलेबस और पैटर्न (MAT Exam Syllabus and Pattern)

मेट परीक्षा आपको वही चीज का क्वेश्चन आएगा जो आप ग्रेजुएशन में पढ़े वैसे कुछ ही सब्जेक्ट से मेट परीक्षा के क्वेश्चन में आती में आपको निचे डिटेल्स में बताऊंगा.

  • Language Comprehension
  • Mathematical Skills
  • Data Analysis and Sufficiency
  • Intelligence and Critical Reasoning
  • Indian and Global Environment

पैटर्न:- मेट परीक्षा का पैटर्न ऑब्जेक्टिव होती है यानी की MCQ का क्वेश्चन होता है इस परीक्षा का पुरे 5 सेक्शन होता है मेट परीक्षा के 1 सेक्शन में 40 क्वेश्चन (Question) होते है तो पुरे 5 सेक्शन में 200 क्वेश्चन हो जाता है जिसे सोल्वे करने के लिए 250 घंटा का समय मिलता है.

मेट (MAT) एग्जाम 2 तरीके से लिया जाता है paper based test और Computer Based Test

अप्लाई कैसे करे (How To Apply For MAT Exam in Hindi)

इच्छुक स्टूडेंट आधिकारिक वेबसाइट यानी http://mat।aima।in पर जाकर और वहां दिए गए निर्देशों का पालन करके ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं लेकिन जो कुछ भी फील करने के लिए कहा जाए वही चीज फील करना है और अपना डॉक्यूमेंट को पहले अच्छे से जरूर देख लेना है उसके बाद ही फील करे।

इसे भी पढ़े

मेट एग्जाम फीस

PBT और CBT के लिए MAT परीक्षा शुल्क इस प्रकार है

पीबीटी या सीबीटी के लिए शुल्क रु. 150 / – है।
PBT और CBT दोनों के लिए शुल्क रु. ।650 / – है।

MAT परीक्षा शुल्क का भुगतान क्रेडिट / डेबिट कार्ड या इंटरनेट बैंकिंग द्वारा किया जा सकता है।

मेट एग्जाम की तैयारी कैसे करे (How To Prepare For MAT Exam In Hindi)

यदि आप चाहते हो की कोई परीक्षा पास करे तो आपको सबसे पहले अपने आप पे भरोषा और जोश होना चाहिए क्यूंकि कोई भी एग्जाम को क्लियर करने के लिए हौशला रखना बहुत जरुरी है तो में आपको कुछ टिप्स दूंगा जिससे आप फॉलो करके अपना MET Exam की तैयारी कर सकते है ये टिप्स से आपको काफी हेल्प मिलेगी।

सबसे पहले आप इसका सिलेबस अच्छे से जानना होगा और उसी के अनुशार आप अपना पढाई करे
दोस्तों कोई भी एग्जाम को क्लियर करने के लिए ये पता होना चाहिए की आखिर MAT Exam में क्या क्या क्वेश्चन (Question) आता है तो ये जानने के लिए आपको पिछले MAT Exam के क्वेश्चन (Question) पेपर (Paper) को जरूर देखे.

लेकिन ये सारे चीज आपको ग्रेजुएशन में ही करना होगा क्यूंकि ग्रेजुएशन बाद तुरंत आपको MAT एग्जाम देना पड़ता है इसलिए आप ये सब बातों का जरूर धेयान रखे.

इसके बाद आपको एक टाइम टेबल बनाना है उसी के अनुशार से आपको पढाई करना है तो आप अपने हिसाब से टाइम टेबल बनाये.

अगर आपको क्वेश्चन (Question) सोल्व करने में परेशानी आती है तो आप एक अच्छी कोचिंग को सेलेक्ट कर सकते है इससे आपकी काफी जायदा हेल्प मिलेगी और आप एक बेहतर प्रोफॉर्मन्स दे सकते है तो आप अपने अकॉर्डिंग मेट एग्जाम का तैयारी करे.

मेट एडमिशन प्रोसेस (Admission Process)

दोस्तों जैसे ही आप अपना मेट (MET) एग्जाम क्लियर कर लेते हो इसके बाद आपको अपने मेट रिजल्ट के रैंक के अनुशार आपको कॉलेज दिया जाता है जितना जायदा अच्छा आपका मार्क्स होगा उतना ही अच्छा आपको कॉलेज दिया जायेगा.

मेट (MAT) क्या है कैसे करे पूरी जानकारी

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की में आपका सारा सवालों का जवाब दे पाया होगा क्यूंकि में सारा कुछ बताया है की कैसे आप अपना MET की एग्जाम की तैयारी कर सकते(What is MAT information in hindi), (What are the requirement for MAT exam in hindi), (Qualification, full details information in hindi) है बहुत डिटेल्स में जानकारी देने का कोशिश क्या हूँ अगर ये पोस्ट आपको अच्छा लगे तो शेयर जरूर कर देना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here