ईडी ऑफिसर (ED Officer) क्या है कैसे बने पूरी जानकारी

अगर आप एक ऐसा जॉब पाना चाहते है जिसमे बड़े बड़े लोगों को जाँच कर सको तो में आपको ईडी ऑफिसर के बारे में बताउंगी क्यूंकि ये जॉब हमारे देश के हित के लिए होता है इसके अंदर इतनी ताकत होती है की आप बड़े बड़े लोगों को गलत चीजों में पकड़ सकते हो खेर, आज मैं आपको इसी के विषय में पूर्ण जानकारी देने जा रही हूं आज मैं आपको बताऊंगी की ईडी क्या है (ED Kya Hai) ईडी ऑफिसर कैसे बने (ED Officer Kaise Bane) ईडी के क्या कार्य होते हैं? जिसे पढ़ने के बाद आपको ईडी से संबंधित पूर्ण जानकारी अवश्य मिल जाएगी।

आप लोगों में से अधिकतर ने न्यूज़ चैनल या न्यूज़पेपर में जब भी बड़े-बड़े केस सामने आते हैं तो जरूर सुना होगा, चाहे वह पैसे से संबंधित हो या काला धन से संबंधित हो उसमें ईडी का नाम आपने अवश्य सुना होगा। ईडी जो कि सरकार के फाइनेंस मिनिस्टर के तौर पर कार्य करती है। इन्हें विदेशी संपत्ति मामला, मनी लॉन्ड्रिंग, इनकम से अधिक संपत्ति की पूछताछ और जांच करने का अधिकार होता है यानी की आप इतना जान लीजिये की अगर ED चाहे तो वो किसी को भी गिरफ्तार कर सकती है और उससे पूछ ताछ कर सकती है।

ED Officer Kaise Bane

अगर आप ईडी के बारे में नहीं जानते है तो आज की इस आर्टिकल में आप पूरी तरह से जान जायेंगे खेर, हमारे देश में सबसे जाएदा पावर फुल ED और CBI होता है अगर ये दोनों चाहे तो किसी को भी पूछ ताछ के लिए गिरफ्तार कर सकती है और उसे अपने तरीके से जाँच कर सकती है और साथ ही ये सरकार के अधीन काम करती है तो आये जान लेते हैं की ईडी अफसर कैसे बनते हैं (How to Become an Enforcement Directorate ED Officer) तो आप बस ये आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़ लेना आपको पूरी जानकारी मिल जाएगी।

ईडी क्या है (What is ED in Hindi)

सबसे पहले जानते है की ED का Full Form क्या होता है तो ED का Full Form Enforcement Directorate या Directorate General of Economic Enforcement होता है यानी प्रबंधक निदेशालय या आर्थिक प्रबंधक महानिदेशालय। यह भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के अधीन एक विशेष वित्तीय जांच एजेंसी होती है; जिसका मुख्यालय नई दिल्ली में है।

ईडी (ED) भारत में आर्थिक कानूनों को लागू करने और आर्थिक मामलों से लड़ने के लिए एक कानून प्रवर्तन एजेंसी होती है, जिसे आर्थिक खुफिया एजेंसी के नाम से भी जाना जाता है। इनके प्रमुख प्रवर्तक निर्देशक होते हैं, यह इंडियन रिवेन्यू सर्विस, इंडियन पुलिस सर्विस, इंडियन एडमिनिस्टर सर्विस, इंडियन कॉरपोरेट लॉ सर्विस के अधिकारियों से बना होता है। इसके 5 क्षेत्रीय कार्यालय मुंबई, चेन्नई, चंडीगढ़, कोलकाता और दिल्ली में स्थित है।

प्रवर्तन निदेशालय की स्थापना 1 मई 1956 ईस्वी को हुई थी। जब हमारे देश के अंदर विदेशी मुद्रा विनियम अधिनियम 1947 के अंतर्गत विनिमय नियंत्रण विधियों के उल्लंघन को रोकने के लिए आर्थिक कार्य विभाग के नियंत्रण में एक प्रबंधन इकाई गठित की गई थी। 1957 में इसी इकाई को पुनः नामकरण करके प्रवर्तन निदेशालय कर दिया गया तथा मद्रास में इसकी एक और शाखा खोली गई।

Must Read: UPSC Exam Kya Hai

ईडी बनने के लिए योग्यता (Education Qualification For ED)

अब हमलोग ये जानने का प्रयाश करते हैं की ईडी बनने के लिए योग्यता क्या क्या होना चाहिए (Qualification For Become ED Officer) तो इसके लिए बहुत से क्वालिफिकेशन की जरुरत पड़ती है क्यूंकि ये बहुत बड़ा Post माना जाता है जिसके कारण आपको पढाई भी अच्छी खासी करनी पड़ती है और इसका चयन UPSC के अधीन होता है साथ ही इसमें बहुत से Exam से गुजरना पड़ता है खेर, अगर आप ईडी अधिकारी बनना चाहते हैं तो आपके पास निम्नलिखित योग्यताएं होना अनिवार्य है:-

  • सबसे पहले आपका किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में ग्रेजुएशन पास होना अनिवार्य है।
  • इसके अलावा आप इसके अंतर्गत अलग-अलग पोस्ट के लिए योग्यताएं भी अलग-अलग होती है। जिसके अनुसार आपका प्रमोशन होता रहता है। इसीलिए अगर आपने ग्रेजुएशन से high एजुकेशन डिग्री हासिल की है तो आपके लिए ज्यादा बेनिफिशियल होता है।
  • शैक्षणिक योग्यता के अलावा आपकी उम्र 21 वर्ष से 27 वर्ष के बीच होनी चाहिए।  इसके अंतर्गत आरक्षित वर्ग के लोगों को आयु सीमा में 3 से 5 वर्ष का छूट दिया जाता है।
  • अपना कैरियर (Career) कैसे चुने

ईडी ऑफिसर कैसे बने (How To Become a ED Officer in Hindi)

दोस्तों जैसा की आपको पहले ही बताया है की ये हमारे देश के सबसे Powerful Agency में से एक है तो जाहिर सी बात है की ED बनने के लिए आपको अच्छा खासा Process से गुजरना पड़ेगा तो इसके लिए आप बिलकुल भी फ़िक्र न करे क्यूंकि जब आप इसकी तैयारी करेंगे तब आपको सब कुछ अच्छे से समझ में आने लगेगा तो अगर आप ED अधिकारी बनना चाहते हैं (ED Officer Kaise Bane) तो सबसे पहले निचे बताये गए पुरे स्टेप को धेयान से पढ़ें।

 1  सबसे पहले ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करें

अगर आप ED Officer बनना चाहते है तो सबसे आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करना अनिवार्य है साथ ही आप किसी भी Stream से Graduation Degree कर सकते है और आप कोसिस करें की इसमें आप अच्छे Marks ला सको तो ये आपके लिए अच्छा रहता है।

 2  SSC CGL Exam को दें

इसके बाद ईडी अधिकारी बनने के लिए SSC द्वारा हर वर्ष SSC CGL की परीक्षा आयोजित कराई जाती है। जिसके लिए आप आवेदन कर सकते हैं और परीक्षा की तैयारी करके इस परीक्षा को दे सकते हैं। इस परीक्षा में आपसे अलग-अलग पोस्ट के लिए परीक्षाएं ली जाती है, जिसमें आपसे  कुल 4 चरणों में परीक्षा ली जाती है।

 3  1st चरण का Exam को पास करें

तो पहले चरण में वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते हैं।  जिसमें कुल 4 विषय होते हैं और यह पेपर कुल 200 अंक का होता है। जिसमें सभी विषय में 25- 25 प्रश्न आते हैं और यह पेपर कुल 1 घंटे का होता है और इसमें एक गलत जवाब देने पर नेगेटिव मार्किंग 0.50 अंक की जाती है पहले चरण में जो विषय की परीक्षा ली जाती है वह इस प्रकार है:-

  • General Intelligence and reasoning
  • General Awareness
  • Quantitative Aptitude
  • English Comprehension

 4  2nd चरण का Exam को पास करें

अगर आप पहले चरण की परीक्षा पास कर लेते हैं। तब आपको दूसरे चरण के परीक्षा देने का मौका मिलता है और इस चरण में कुल 4 पेपर होते हैं और यह पेपर भी कंप्यूटर पर वैकल्पिक पेपर होते है। जिसमें आपको कुल 2 घंटे का समय दिया जाता है इसमें कुल 4 पेपर होतें हैं जो इस प्रकार हैं:-

  • Quantitative Abilitabilites: – इसमें कुल 100 प्रश्न पूछे जाते हैं जिसमें कुल 200 अंक के पेपर होते हैं। इसमें भी नेगेटिव मार्किंग 0.5 अंक का होता है।
  • English Language and Comprehension: – जिसमें आप से 200 प्रश्न पूछे जाते हैं जो 200 अंक के होते हैं इसमें भी नेगेटिव मार्किंग हर गलत जवाब देने पर 0.5 अंक का होता है।
  • Statistics: – जो कि तीसरा पेपर होता है, इसमें कुल 100 प्रश्न पूछे जाते हैं; जो 200 अंक के होते हैं।
  • चौथा और अंतिम प्रश्न जो कि general study का होता है। इसमें आपसे फाइनेंस और इकनोमिक से संबंधित कुल 100 प्रश्न पूछे जाते हैं; जो 200 अंक के होते हैं।

 5  3rd चरण का Exam को पास करें

जो भी उम्मीदवार पहले और दूसरे चरण की परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते हैं। उसके बाद उन्हें तीसरे चरण की परीक्षा देना पड़ता है। यह पेपर ऑनलाइन नहीं होता बल्कि या पेपर लिखित होता है। इस लिखित पेपर में आपसे निबंध लेटर इत्यादि विषयों को लिखाया जाता है और यह पेपर कुल 100 अंकों का होता है जिसमें आपको 1 घंटे का समय दिया जाता है।

 6  4th चरण में Interview को पास करें

अगर आप तीसरे चरण की परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते हैं तब आप अंतिम चरण यानी चौथे चरण तक पहुंचते हैं और इस चरण में आपका Skill टेस्ट लिया जाता है। जिसमें आपकी कंप्यूटर दक्षता पर टेस्ट की जाती है। इस तरह से अगर आप सभी टायरों में उत्तीर्ण हो जाते हैं, तब आपका इसके उपरांत फिजिकल टेस्ट डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन और अंत में इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।

 7  Finally, ED बन जाते हैं

तो जैसे ही आप सब कुछ अच्छे से पास कर लेते है इसके बाद अगर आप लास्ट में Interview को Crack कर लेते है यानी की अगर आप इन सभी चरणों को उत्तीर्ण कर लेते हैं तब आप एनसीबी (NSB) ऑफिसर बन जाते हैं। इसी के अंतर्गत ईडी आता है। इसके बाद आपको अच्छे से काम करना होता है और साथ ही इसमें आपको बहुत तरह का फायदा मिलने लगता है।

Must Read: फॉरेस्ट गार्ड (Forest Guard) क्या है कैसे बने 

ED क्या कार्य करते हैं?

हम सभी लोग ने ईडी के बारे में बहुत कुछ जानने का प्रयास किया है तो अब जानने का प्रयाश करते है की ED बनने के क्या क्या फायदा होता है तो जाहिर सी बात है जितना इसके अंदर फायदा रहेगा उतना ही आपको काम का परेसर भी रहेगा खेर, जितना इसके अंदर आपको power मिलता है उतना ही काम करने का अधिकार भी रहता है जो कुछ इस प्रकार है:-

  1. ईडी फेमा 1999 के उल्लंघन से संबंधित सूचना को प्राप्त करता है और यह सूचना केंद्र और राज्य सूचना अभिकरण शिकायतों आदि से वह प्राप्त करती है।
  2. यह हवाला फॉरेन एक्सचेंज रैकेटियरिंग मामलों की जांच और निर्णय लेते हैं।
  3. इसके अलावा इन्हें निर्यात प्रक्रियाओं का पुराना होना विदेशी विनिमय का गैर प्रत्यावर्तन तथा फेमा 1999 के तहत उल्लंघन करने पर मामले की जांच और निर्णय लेना भी पड़ता है।
  4. ED न्यायिक निर्णय कार्यवाही के अंतर्गत दंड की वसूली भी करते हैं, इसके लिए यह नीलामी इत्यादि प्रक्रिया का अनुपालन करते हैं।
  5. टीडीपी एमएलए अपराध के अपराधी के विरुद्ध सर्वेक्षण जांच जबकि गिरफ्तारी अभी योजना कार्य को पूर्ण करने का कार्य भी करती है।
  6. इसके अलावा यह पीएम एलए के अंतर्गत अपराधी के हस्तांतरण के साथ-साथ अपराधी प्रक्रियाओं की जब्ती के संबंध में संस्कारी राज्य को पारस्परिक कानूनी सहायता की मांग तथा उसे प्रदान करने का प्रयास भी करती है।
  7. यह विदेशी मुद्रा और तस्करी निवारण अधिनियम के संरक्षण के अंतर्गत सिफारिश तथा कार्यवाही का कार्य करती है।
  8. यदि किसी भी व्यक्ति ने भारी मात्रा में विदेशी मुद्रा पर कब्जा करके अपने पास उसे रखा है तो उस विदेशी मुद्रा की जांच भी ईडी के द्वारा ही की जाती है।
  9. इसके अलावा यदि आप फॉरेन में किसी प्रकार की कोई भी संपत्ति खरीदते हैं तो ईडी उस संपत्ति की जांच भी करते हैं।
  10. लेन-देन से जुड़े मामलों में पैसों की ठीक-ठाक से जांच करना। ED के द्वारा इंक्वायरी करने पर व्यक्ति के लेनदेन की जांच भी की जाती है।

इसके अलावा अपने देश के अंदर भ्रष्टाचार को कम करने में ईडी की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है। यह विशेष एजेंसी अपने कर्तव्यों का सही तरीके से निर्वहन करती है। जिससे money शोधन और काले धन से जुड़े गंभीर मामलों में दोषियों के विरुद्ध निष्पक्ष जांच करके, उन्हें कानून के अनुसार दंड दिला सके।

ED की सैलरी कितनी होती है?

अब आपके मन में यह प्रश्न अवश्य होगा कि एक ED Officer को जॉब करने के बाद सैलरी कितनी मिलती होगी तो आपको बता दें ईडी विभाग में विभिन्न प्रकार के पद होते हैं, जिसकी सैलरी भी विभिन्न -विभिन्न होती है। फिर भी अगर एवरेज सैलेरी की बात की जाए तो इसकी सैलरी 50000 से ₹100000 के बीच में होती है। इसकी सैलरी आपके अनुभव के अनुसार इससे ज्यादा भी हो सकती है।

दोस्तों एक बात में आपको ओर बता देना चाहता हूँ की देखो इसके अंदर आपको बहुत से चीजों का फायदा मिलता है यानी की आपको रहने और खाने का भी चीजों को मोहया करवाया जाता है साथ ही आपके Family को भी बहुत से सरकारी फायदा मिलता है साथ ही इसमें आपकी वेतन की विर्धि समय समय पर भी होता जाता है तो अगर देख जाए तो इसमें आपको वेतन बहुत अच्छा मिलता है और सुविधा भी बहुत मिलती है।

Must Read: कॉल सेंटर (Call Centre) मैं जॉब कैसे पाए

Conclusion

आज के आर्टिकल में मैंने आपको ईडी यानी प्रवर्तन निदेशालय के विषय में बताया आज मैंने आपको बताया कि ईडी क्या है (ED Kya Hai) ईडी कैसे बने (ED Officer Kaise Bane) ईडी के क्या कार्य होते हैं? इन तमाम विषयों के विषय में आज मैंने आपको पूर्ण जानकारी दी, जिसे पढ़ने के बाद आपको ईडी के विषय में पूर्ण जानकारी अवश्य मिल गई होगी।

अगर आपको हमारा आज का आर्टिकल  पढ़कर अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी अवश्य शेयर कीजिएगा और अगर आपके मन में इससे संबंधित कोई भी प्रश्न हो तो आप हमें बेझिझक Contact Us में पूछ सकते हैं।

धन्यवाद!

Leave a Comment