व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट कैसे बने – Vehicle Insurance Agent Kaise Bane

दोस्तों आज की इस आर्टिकल में हम आपको व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट कैसे बने (How to become a vehicle insurance agent in Hindi) व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट की वेतन कितनी होती है (vehicle insurance agent salary), वाहन बीमा एजेंट बनने की योगयता किया होना चाहिए (Eligibility for vehicle insurance agent in Hindi) इन सब के बारे में इस आर्टिकल में जानेंगे वो भी पूरी जानकारी के साथ इसलिए आप ये अतिक्ले लास्ट तक पढ़ते रहना।

आप सब ने तो व्हीकल बीमा के बारे में सुना ही होगा या किसी भी दो पहिया या चार पहिया या किसी भी वाहन के लिए बहुत जरूरी है बिना बीमा के अगर आप वाहन का उपयोग करते हैं तो यह गैरकानूनी माना जाता है सब को सजा भी हो सकती है इसीलिए वाहन बीमा बहुत जरूरी है और आज बहुत सारी कंपनियां वाहन बीमा का कार्य कर रही हैं  और इन कामों के लिए कंपनियां एजेंट रखती हैं जो कि ग्राहक और कंपनी को एक साथ लाती है।

Vehicle Insurance Agent Kaise Bane
pic: pixabay

Vehicle बीमा आपकी और insurance company के बीच एक एजेंट द्वारा किया जाता है। Vehicle insurance agent इसमें एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है जिससे यह पता चलता है कि आप व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट बनकर एक बेहतर करियर बना सकते हैं और अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं। तो आइए इस आर्टिकल में हम जानते हैं कि व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट कैसे बने ? सैलरी कितनी है ? अप्लाई कैसे करें ? Vehicle insurance agent eligibility क्या है? इत्यादि!

इन सब विषयों के बारे में किस आर्टिकल में हम विस्तार से जानेंगे। अगर आप भी vehicle insurance agent बनना चाहते हैं या इसके बारे में जानना चाहते हैं हमारे इस आर्टिकल का पूरा ध्यान से पढ़ें इस आर्टिकल में आपको व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट के बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारियां दूंगा।

व्हीकल इन्शुरन्स क्या है (What is Vehicle Insurance in Hindi) 

अगर आप भारत में दोपहिया या चार पहिया किसी भी प्रकार की वाहन चलाते हैं तो आपको पता होगा कि इस प्रकार की किसी भी वाहन  को चलाने पर आपको मोटर इंश्योरेंस पॉलिसी करना अनिवार्य है। अगर आप बिना इंश्योरेंस के किसी भी सार्वजनिक स्थल पर अपना वाहन को चलाते हैं आप मोटर व्हीकल एक्ट 1988 को तोड़ रहे हैं जिससे आपको सजा हो सकती है।

वाहन बीमा इस प्रकार की दुर्घटना घटित होने पर उसकी आर्थिक भरपाई करता है। यह सुविधा विभिन्न प्रकार की बीमा कंपनियों के द्वारा दिया जाता है। इसमें आपकी और इंश्योरेंस  कंपनी के बीच एक एग्रीमेंट होता है, जैसे अगर आप कंपनी को पेमेंट देते हैं तो वो आपकी वाहन दुर्घटना होने पर आर्थिक नुकसान की भरपाई करेगी। 

Most Read: Essay on Abraham Lincoln in Hindi – अब्राहम लिंकन पर निबंध

व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट कैसे बने (How to Become a Vehicle Insurance Agent in Hindi)

Vehicle insurance यानी वाहन बीमा के बहुत सारे कंपनी मौजूद है, किसी भी बीमा कंपनी के एजेंट बनने के लिए लगभग लगभग समान ही प्रक्रिया है। दोस्तों में आपको व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट कैसे बने इसका पूरा स्टेप बता रहा हूँ आप निम्नलिखित चरणों को ध्यान से पढ़ें।

 1  इंश्योरेंस कंपनी को चुने      

सबसे पहले एक आईआरडीएआई (IRDI) द्वारा मान्यता प्राप्त इंश्योरेंस कंपनी को चुने जिसमें आपको एजेंट बनना है और उनकी एजेंट पॉलिसी बेचना है। कंपनी चुनते समय एक बात का ध्यान रखें कंपनी ऐसा ही चुने जिसकी बीमा पॉलिसी आपके एरिया में ज्यादा बिकती हो। ऐसे में आपको इंश्योरेंस पॉलिसी बेचने में आसानी होगी। आईआरडीएआई द्वारा मान्यता प्राप्त इंश्योरेंस कंपनी जानने के लिए गूगल पर सर्च कर सकते हैं। 

 2  इन्शुरन्स मैनेजर से बात करे  

कंपनी चुनने के बाद उस कंपनी के दफ्तर में जाएं और उसके मैनेजर से बात करके उनको बताएं कि आप उनके बीमा में एजेंट बनना चाहते हैं। यानी की उनके बिमा में जॉब करना चाहे है एजेंट के तोर पर यानी की आपको इन्शुरन्स मैनेजर से बात करना है।

 3  इंटरव्यू पूरी करे  

वहां कंपनी के सेल्स मैनेजर आपसे आपका बायोडाटा मांगेंगे आपसे कुछ प्रश्न पूछेंगे जिससे वे आपकी योग्यता का आकलन करेंगे कि क्या आप एक मोटर बीमा एजेंट बनने के लायक है? या आप मोटर बीमा एजेंट क्यों बनना चाहते हैं ? आपकी योग्यता क्या है ? आप हमारे कंपनी की पॉलिसी क्यों बेचना चाहते हैं ? इत्यादि।

तो आपको इन सब सवालों को अच्छे से तैयारी करके जाना है क्यूंकि ये जितने भी सवाल है वो सारा बेसिक सवाल है जिसे आपको अच्छे से तैयारी करके जाना है और साथ ही आपको अच्छे से जवाब भी देना है ताकि आपका सिलेक्शन हो जाये।

 5  ट्रेनिंग पूरी करें

आपका इंटरव्यू होने के बाद सेल्स मैनेजर को अगर लगेगा कि आप बीमा एजेंट बन सकते हैं तो आपको उस कंपनी के ट्रेनिंग के लिए बुलाएगा। यानी की जब आप सेलेक्ट हो जायेगा तो आपको तरीनिंग दिया जायेगा की आपको किस तरह से काम करना है और कैसे आप इन्शुरन्स को बेच सकते है आपको पूरी ट्रेनिंग दी जाति है ताकि आप अच्छे से काम कर सको।

व्हीकल इंश्योरेंस की ट्रेनिंग (Vehicle Insurance Agent Training)

Vehicle insurance company आपको ट्रेनिंग के लिए बुलाएगी यहां आपको 25 से 50 घंटे की ट्रेनिंग दी जाएगी आपको व्हीकल इंसुरंस पॉलिसी के बारे में बताया जाएगा! ऐसे बताया जाएगा कि पॉलिसी कितने प्रकार की होती है ? पॉलिसी क्या होती है? कौन सी पॉलिसी करनी चाहिए ? सब बातें बताई जाएगी बताई जाएगी पॉलिसी कैसे बेचनी है ? इत्यादि।

ट्रेनिंग के बाद आपको आईआरडीआई जो कि एक सरकारी संस्था है इसके द्वारा लिया गया मोटर बीमा एजेंट परीक्षा पास करनी होगी , इसमें वही सवाल पूछे जाते हैं जो आपको ट्रेनिंग में सिखाये जाते हैं। 

“भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण” आईआरडीएआई एक संस्कारी संस्था है। इसके अनुसार किसी भी कंपनी में insurance agent बनने के लिए आपको उसके द्वारा ली गई परीक्षा आईसी 33 या IC 38 परीक्षा पास करना अनिवार्य है। इस परीक्षा को पास के बिना कोई भी vehicle insurance agent नहीं बन सकता है और कोई भी कंपनी बीमा एजेंट लाइसेंस जारी नहीं कर सकती है। 

परीक्षा को पास करने के बाद बीमा कंपनी आपको आपका मोटर बीमा एजेंट लाइसेंस कर देगा उसके बाद आपको उस कंपनी के पॉलिसी को बेच सकेंगे और इसके बाद आप एक वाहन बीमा एजेंट बन जाएंगे।

वाहन बीमा एजेंट बनने की योगयता (Eligibility For Vehicle Insurance Agent in Hindi)

किसी भी वाहन बीमा कंपनी में वाहन बीमा एजेंट बनने के लिए दसवीं कक्षा पास होना चाहिए और आपकी आयु 18 साल या उससे अधिक होनी चाहिए।

इसके अलावा आपको बात करने में भी थोड़ी सी fluency होनी चाहिए , जिसे आप जब कंपनी की पॉलिसी को  बेचें तो लोग आप से जल्दी से खरीद ले। 

Most Read: एमएस (MS) क्या है कैसे करे पूरी जानकारी

वाहन बीमा एजेंट के कार्य (Vehicle Insurance Agent Work in Hindi)

दोस्तों अब बात करते है Vehicle insurance agent के काम के बारे में तो एक व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट किसी मान्यता प्राप्त बीमा कंपनी के मान्यता  प्राप्त एजेंट होते हैं। यह लोगों को वाहन बीमा पॉलिसी बेचते हैं। यानी की ये जिस company में काम कर रहे होते है उसका इन्शुरन्स लोगो तक पहुंचाते है और अपनी कंपनी के insurance के बारे में बताते है की हमारे कंपनी से आपको इन्शुरन्स क्यों करवाना चाहिए।

एजेंट अपने कंपनी की अच्छायों के बारे में बताते है ताकि लोग समझे और कंपनी के इन्शुरन्स को ले यही सारा काम होता है एक एजेंट का खेर अब आपको अच्छे से समझ में आ गया होगा।

वाहन बीमा एजेंट का वेतन (Vehicle Insurance Agent salary)

वैसे तो बीमा कंपनी कैसी एजेंट को किसी प्रकार की सैलरी नहीं देती है। बल्कि उनको उनके पॉलिसी के आधार पर कमीशन प्राप्त होता है यानी कि एक बीमा एजेंट जितनी पॉलिसी भेजता है उसमें से उसे 10% से लेकर 15% तक कमीशन प्राप्त होता है यानी कि यह पूरी तरह इंश्योरेंस एजेंट पर निर्भर करता है कि वह कितनी पॉलिसी बेच पाता है।

यानी कि व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट जितना ज्यादा पॉलिसी बेचेगा उसको उतना ही ज्यादा कमीशन मिलेगा जिससे उसकी ज्यादा कमाई होगी। सबसे बड़ा फायदा यह है कि जो आपके द्वारा भेजे गए ग्राहक फिर से पॉलिसी को रिन्यू कर आता है तो आप को फिर से कमीशन मिलता है।

यानी की अगर सैलरी के बारे में बात करे तो वो सारा कुछ एजेंट के हाथो में होता है की वो कितना इन्शुरन्स को बेच सकता है जितना जाएदा इन्शुरन्स को बेचेगा उतना उसको कमिशन मिलेगा। तो इसमें कोई सैलरी फिक्स नहीं होता है।कुल मिलाकर अगर बात करें तो आप व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट बनकर एक बहुत ही अच्छी पैसे कमा सकते हैं।

व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट का कमीशन कितना होता है

दोस्तों एक व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट को 10% से लेकर 15% तक कमीशन प्राप्त होता है। सबसे बड़ा फायदा यह है कि जो आपके द्वारा भेजे गए ग्राहक फिर से पॉलिसी को रिन्यू कर आता है तो आप को फिर से कमीशन मिलता है। यानी की अगर आपके द्वारा बनाये गए ग्राहक फिर से पॉलिसी को रिन्यू कर आता है तो आपको 15% तक का कमीशन आराम से मिल सकता है।

Most Read: एमफार्मा (M.Pharm) क्या है कैसे करे पूरी जानकारी

Vehicle Insurance Agent बनने के फायदे

  1. अपने हिसाब से काम करें – यानी कि काम करने की आजादी यानी कि साधारण नौकरी की तरह है यहां आपका कोई निश्चित कार्य समय सीमा नहीं है आप अपने हिसाब से अपना समय निर्धारित कर सकते हैं और इस प्रकार से अपना काम कर सकते हैं
  2. Part time job आप इसको एक बार Part टाइम जॉब की तरह ले सकते हैं यानी कि आप इसके साथ साथ कुछ और भी नौकरी कर सकते हैं यह बस आपको एक पार्ट टाइम जॉब की तरह करना है।
  3. अपना कोई खर्चा नहीं – यह बनने से पहले आपको अपना कोई खर्चा नहीं करना पड़ता है।
  4. Better lifestyle – आपको कंपनी की ओर से व्यक्तित्व सुधारने के लिए बहुत ही प्रकार के ट्रेनिंग होते रहते हैं जिससे आपका व्यक्तित्व सुधरता है। आप सब लोगों से मिलते हैं लोगों को अपना पॉलिसी भेजते हैं तो आपका लोगों से बात करने का तरीका सुधरता है आपका आत्मविश्वास बढ़ता है।

Conclusion 

तो यहां हमने एक vehicle insurance agent बनने के चरणों के बारे में बात किया , तो आज ही आप अपने क्षेत्र के सबसे पॉपुलर इंश्योरेंस कंपनी में अपना नाम जरूर दर्ज कराएं और जल्दी से जल्दी एक व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट बन जाए। आप विभिन्न व्हीकल इंश्योरेंस कंपनी के बारे में गूगल से जान सकते हैं। आपको अगर अभी भी कोई समस्या है तो आप कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं।

1 thought on “व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट कैसे बने – Vehicle Insurance Agent Kaise Bane”

Leave a Comment