सीडीओ (CDO) क्या है कैसे बने पूरी जानकारी

दोस्तों आज की इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले है की सीडीओ क्या है (What is CDO in Hindi) सीडीओ कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become an CDO in Hindi) सीडीओ ऑफिसर बनने की योगयता क्या होना चाहिए (Eligibility CDO Officer) और सीडीओ ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है (CDO salary) तो आज में आपको पूरी डिटेल्स में बताऊंगा ये सब के बारे में तो इसलिए आप ये आर्टिकल पड़ते रहिये।

किसी भी सरकारी पद में  नौकरी करने के लिए यह सारी जानकारी हमारे पास होना बहुत जरूरी है क्योंकि इन जानकारियों के मदद से सबसे पहले हम अपनी तैयारी को बहुत अच्छे से कर सकते हैं और दूसरी हम उस सरकारी पद की जिम्मेदारी और कामों को समझ सकते हैं।

दोस्तों हमारे इस ब्लॉग में आपको अलग-अलग तरह के कोशिश और कैरियर ऑप्शन के बारे में हार्दिक आर्टिकल मिलता है। हमारा उद्देश्य यह है कि हम अपने ब्लॉग के जरिए लोगों की मदद कर सकें। दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में एक सरकारी ऑफिसर के पद के बारे में जानेंगे।

cdo officer kaise bane
pic: pixabay

जैसा कि हमें पता है कि हमारे देश में जिलों को शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में बांट दिया गया। शहरी या ग्रामीण क्षेत्रों की विकास के लिए जिलों में कई तरह के सरकारी ऑफिसर की नियुक्ति होती है जो कि जिले के विकास कार्य की देखरेख करते हैं।

दोस्तों आज हम जिले के chief Development Officer के बारे में जानेंगे। अगर आप भी CDO officer  बनना चाहते हैं और जिले का विकास करना चाहते तो हमारे इस पोस्ट को पूरा अच्छे से पढ़ें।

सीडीओ क्या है (What is CDO in Hindi)

दोस्तों हमारे देश में लगभग 600 जिले हैं। हमारे देश के जिलों को शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में विभाजित कर दिया गया है। इतने सारे जिले और गांव का विकास के लिए सरकार ने हर जिले और हर गांव में  सरकारी ऑफिसर की नियुक्ति करती हैं जो कि उस जिले की विकास के कार्यों को संभालती हैं।

सरकार द्वारा चलाई जा रही विकास कार्यों को सभी जिलों में पहुंचाने के लिए सरकार को इन ऑफिसर की जरूरत होती है। दोस्तों जिलों के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में बांटा गया है और शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में एक अलग अलग विकास अधिकारी होता है।

जबकि पूरे जिले के लिए एक अलग विकास अधिकारी होता है जो कि जिले में स्थित जितने भी शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के विकास कार्य को देखते हैं। जिले के विकास अधिकारी को CDO officer कहते हैं। इनका काम महत्वपूर्ण तथा जिम्मेदारी वाला होता है।

इनके जिले में विकास के लिए जो भी कार्य हैं जैसे कि शिक्षा का विकास, परिवहन या सड़क का विकास और शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को सभी तरह की सुविधा पहुंचाने की जिम्मेदारी भी cdo officer  की होती है।

इनके क्षेत्र में सरकार द्वारा की जाने वाली विकास कार्य की समीक्षा भी करणी इनकी जिम्मेदारी होती है। सी डी ऑफिसर प्रिया सुनिश्चित करना होता है कि उनके क्षेत्र में सभी विकास  कार्य सही ढंग से हो रहे हैं।

CDO officer full form kya hai

CDO officer full form chief Development Officer

सीडीओ ऑफिसर कैसे काम करती है (CDO Officer Work)

CDO officer की नियुक्ति राज्य सरकार द्वारा आयोजित राज्य लोक सेवा परीक्षा के द्वारा होती है। यह परीक्षा हर वर्ष आयोजित होती है।

जिले के विकास के लिए chief Development Officer बहुत ही जरूरी होता है। cdo officer की जिम्मेदारी यह होती है कि वह जिले में हो रहे विकास के कार्य में पारदर्शिता लाएं और यह सुनिश्चित करें कि जिले के विकास कार्य में कोई भ्रष्टाचार नहीं हो रहा है अगर cdo officer को लगता है कि किसी भी कार्य में किसी भी तरह की भ्रष्टाचार  का काम हुआ है तो वह उस कार्य की जांच करवा सकते हैं।

ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर CDO officer के अंतर्गत काम करती है. सीडीओ ऑफिसर ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर को अपने ब्लॉक में विकास कार्य हेतु दिशा निर्देश दे सकती है और ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर को उस दिशा निर्देश के अनुसार काम करना होता है.

You May Also Like!

सीडीओ ऑफिसर बनने की योगयता (Eligibility CDO Officer)

सीडीओ ऑफिसर (CDO Officer) के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता यह है कि आपको किसी राज्य या केंद्र सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी या कॉलेज से किसी भी विषय से ग्रेजुएशन की डिग्री लेनी होती है. आपको अपनी डिग्री कम से कम 50% से लेकर 60% अंकों के साथ लानी होती है और पास करनी होती है|

उम्र सिमा (Age Limit)

सीडीओ ऑफिसर (CDO officer) की परीक्षा को देने के लिए आप की न्यूनतम आयु 21 वर्ष तथा अधिकतम आयु 40 वर्ष होनी चाहिए.

आरक्षित वर्ग के विद्यार्थियों (OBC, ST/SC) को सरकार द्वारा इस आयु सीमा में छूट प्रदान की गई है.

सीडीओ कैसे बने पूरी जानकारी (How To Become an CDO in Hindi)

cdo officer Kaise bane यह सबसे महत्वपूर्ण सवाल है और इस सवाल का जवाब मैं आपको बहुत विस्तार से और सरल भाषा में दूंगा.

दोस्तों जैसे कि हम जानते हैं ऑफिसर सरकारी प्रशासनिक पद होता है. इस पद की नियुक्ति इसके प्रवेश परीक्षा द्वारा की जाती है. इस पद के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam) राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित कराई जाती है और यह परीक्षा हर साल आयोजित होती है.

 1  ग्रेजुएशन पूरी करे (Complete Graduation)

सीडीओ ऑफिसर (cdo officer) बनने के लिए सबसे पहले हमें किसी अच्छे मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी या कॉलेज से किसी भी विषय में अच्छे अंकों के साथ ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल करनी होती है.

 2  सीडीओ एग्जाम के लिए अप्लाई करे (Apply For CDO Exam)

दोस्तों जब आपने अपनी ग्रेजुएशन पूरी कर ली है तब आपको सबसे पहले राज्य लोक सेवा आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर CDO exam form को apply करें.

अप्लाई करते वक्त हमेशा यह ध्यान रखें कि आप अपनी सारी जानकारी फॉर्म में सही सही डाल रहे हैं. क्योंकि इस पद के अंतिम चरण में आपके document verify किए जाते हैं. आपने अप्लाई करते वक्त जिन दस्तावेजों का इस्तेमाल किया है उन्हीं दस्तावेजों का आपका verification किया जाता है।

 3  सीडीओ एग्जाम पास करे  

दोस्तों form apply  करने के बाद आप की परीक्षा आयोजित होती है. यह परीक्षा राज्य लोक सेवा द्वारा आयोजित कराई जाती है. cdo exam तीन चरणों में होती है. पहले तो चरण की परीक्षा लिखित होती है तथा आखिरी चरण की परीक्षा में इंटरव्यू लिया जाता है.

सीडीओ ऑफिसर की एग्जाम प्रोसेस (Exam Process)

CDO officer बनने के लिए आपको इन तीनों परीक्षाओं में सफल होना होता है. तभी आपको chief Development Officer का पद प्राप्त होता है.

 1  प्रारंभिक परीक्षा (preliminary Exam)

दोस्तों प्रारंभिक परीक्षा में आपसे ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाते हैं। आपसे भारतीय संस्कृति, भारतीय इतिहास, भारतीय भूगोल, करंट अफेयर्स, सामान्य ज्ञान, गणित जैसे विषय से प्रश्न पूछे जाते हैं।

 2  मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

दोस्तों जो विद्यार्थी प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण (Pass) होते हैं उन्हें ही मुख्य परीक्षा देने का अधिकार होता है। इस परीक्षा में आपसे अंग्रेजी हिंदी सामान्य ज्ञान जैसे विषय से प्रश्न पूछे जाते हैं तथा अंग्रेजी और हिंदी में निबंध के प्रश्न भी पूछे जाते हैं।

 3  Interview

जो विद्यार्थी प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा दोनों में सफल होते हैं उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है इंटरव्यू में आपका डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होता है तथा इस पद से संबंधित कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं। आपका आत्मविश्वास देखा जाता है और आपने जिस विषय से ग्रेजुएशन किया है उसमें से प्रश्न पूछे जाते हैं और आपके राज्य के संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।

सीडीओ ऑफिसर की सैलरी (CDO OFFICER SALAY)

दोस्तों CDO OFFICER एक सरकारी पद है. इसमें आपको JOB SEQURITY मिलती है जो किसी भी सरकारी नौकरी की सबसे खास बात है.

CDO OFFICER को 7TH PAY COMMISSION के आधार पर हर महीने 37400 RS से लेकर 67000 RS तक मिलती है. CDO OFFICER को सैलरी के अलवा और बहुत सारी सुविधाएँ प्राप्त होती है जैसे

  • रहने के लिए सरकारी आवास
  • मुफ्त टेलीफोन की सुविधा
  • मुफ्त बिजली
  • MEDICAL सुविधा

ऐसी बहुत सारी सुविधाएँ मिलती है.

Conclusion 

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने किसी भी जिले के विकास के लिए सबसे प्रमुख अधिकारी के पद के बारे में जाना है. आज इस आर्टिकल में हमने जिला के मुख्य विकास अधिकारी से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियों को जाना है।

इस आर्टिकल में हमने cdo officer kya hai, cdo officer kaiser bane, cdo officer salary, cdo officer exam pattern, जैसी महत्वपूर्ण जानकारियों को बहुत विस्तार से जाना है।

मुझे उम्मीद है कि इस आर्टिकल को पढ़कर आपको cdo oficer से जुड़ी सारी जानकारी मिल गई होगी अगर फिर भी आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो आप में कमेंट करके पूछ सकते हैं.

2 thoughts on “सीडीओ (CDO) क्या है कैसे बने पूरी जानकारी”

Leave a Comment