आयकर रिटर्न (ITR) क्या है Income Tax Return कैसे भरते है पूरी जानकारी

ITR Kya Hai Kaise Bhare | दोस्तों आज के इस Article में मैं आपको बताऊंगा की आयकर रिटर्न क्या है (What is ITR in Hindi) Income Tax Return कैसे भरे पूरी जानकारी (How to fill Income Tax Return in Hindi) इनकम टैक्स रिटर्न के नियम (Income tax return rules in Hindi) और भी बहुत कुछ के बारे में जानकारी देंगे बस आप ये आर्टिकल पूरा अंत तक पढ़ना।

तो आज हम आपको उसका पूरा मतलब समझायेंगे वह भी हिन्दी में तो यह Post आपके लिए है आयकर (Income Tax) से होने वाली कमाई को सरकार अपनी गतिविधियों और जनता को सुविधा प्रदान करने के काम में करती है। आपकी आमदनी (Salary) पर केंद्र सरकार Tax वसूलती है, इसे ही Income या इनकम टैक्स कहते है अपनी सालाना आमदनी यानि कमाई का एक ब्यौरा सरकार को लिखित रूप में बताना होता है।

देश के कानून अनुसार हर नागरिक को ITR यानि Income Tax Return भरना चाहिए। Income भरना एक ज़िम्मेदार नागरिक की पहचान है। इसे सरकार हमारी सुरक्षा व सुविधा में खर्च करने के लिए राजकीय कोष (State treasury) में जमा करती है। Income Tax के साथ-साथ प्रत्येक नागरिक पर ITR Form भरना भी ज़रूरी है। अगर आप Tax भरने वालों में नहीं आते तब भी आपको ये Form भरना चाहिए।

ITR kya hai
pic: pixabay

क्योंकि इसके कोई भी नुक़सान नहीं, बल्कि अनेक फायदे (Benefits) है जिनका लाभ आप ITR से पाते है। Income Tax ACT, 1961 की धारा 139 (1) के अनुसार, कोई भी व्यक्ति जिसकी कुल कमाई वित्तीय वर्ष में Tax के दायरे में आती है (जो कि वित्तीय वर्ष 19 के लिए 2.5 लाख से अधिक है) उसे ITR File करना होता है। तो आइये जानते हैं ITR के बारे में विस्तार से।

आयकर रिटर्न क्या है (What is ITR in Hindi)

दोस्तों ITR का Full Form होता है Income Tax Return और हिंदी में (आय कर रिटर्न) होता है।

ITR एक Tax है जो लोगो से उनकी आये पर लिया जाता है. आप जो भी काम करते है, चाहे वह Job हो या Business या फिर कोई भी Service profession, अगर आप इन में से किसी भी तरह से पैसे कमाते है और आपके कमाए गए पैसे ITR यानि Income Tax के दायरे में आते है तो आपको Tax देना होता है। ITR एक Tax होता है, ITR की मदद से हम सरकार को Tax देते भी है तथा Tax वापिस भी लेते है।

ITR की फाइल होती है. ITR फाइल या Income Tax Return File अपनी आय की जानकारी Tax department को देने के लिए भरी जाती है. ताकि आप पर उचित Tax लगे या फिर आपका कटा हुआ Tax आपको बापिस मिल सके| किसी देश के नागरिक अपने Business या नौकरी से कितनी रकम कमाते है और उस पर कितना Tax देते है।

यह विभिन्न स्रोतों से अदा करने योग्य आय की गणना करने तथा अतिरिक्त कर की वापसी करने का दावा करता है और आपकी Taxable Income की पुष्टि करता है। अगर आप Income Tax के दायरे में है तो आपको Fix Date तक Income Tax Return File करना जरुरी है। अगर आप Fix Date तक Income Tax File नहीं करते तो आपको इस पर Interest और Penalty देनी होगी।

Income Tax Return वित्तीय साल (Financial Year) में कमाई गयी आय की पूरी Detail होती है। Financial Year में कमाई गयी Taxable और Tax Free दोनों प्रकार की Information को ITR में दिखाया जाता है।

Tax Free Income पर आपको कोई Tax नहीं देना होता है। आप जो भी काम करते है, चाहे वह नौकरी हो या Business या फिर कोई भी Profession Service अगर आप इन में से किसी भी तरह से पैसे कमाते है और ITR के दायरे में आते है तो आपको Income Tax भरना पड़ेगा।

Most Read: Online FIR दर्ज कैसे करे

ITR कैसे भरे पूरी जानकारी (How to fill Income Tax Return in Hindi)

ITR (Income Tax Return) को फाइल करने के लिए आपको ज्यादा चिंता करने की जरुरत नहीं है क्योंकि Income Tax भरना बहुत ही आसान है ITR Income Tax Return File आप दो तरह से कर सकते है.

  • Offline ITR File
  • Online ITR File

 1  Offline ITR (Income Tax Return) File

अगर आप ITR Offline भरना चाहते है तो इसके लिए आप इस Website पर जाकर http://www.incometaxindiaefiling.gov.in/downloads/incomeTaxReturnUtilities?lang=eng ITR भरने की excel file download कर ले और अपनी ITR फाइल तियार कर ले.

  • IT Return Preparation Software पर Click करें और उसके बाद Menu में जाकर Download पर Click करना है अपना Assessment ईयर चुनें और Applicable ITR अपनी सुविधानुसार जावा या Excel Format में Download करें| 
  • ITR Form को भरें
  • ITR Form में भरी गई सभी जानकारी को Valoidate करें और Tax की गणना करें.
  • XML FIle को Generate कर Save करें.
  • E-Filling Portal में Log in करें और E-File Menu के तहत ITR को Select करें.
  • Pan Card उसमें पहले से भरा आएगा अपना Assessment year, ITR Form Number, Filling Type (ओरिजिनल या रिवाइज्ड रिटर्न) और सबमिशन मोड (Upload XML) चुनें.

अपने ITR को Verify करने के लिए नीचे लिखे किसी भी Option को Select करें.

  • Digital signature certificate (डीएससी)
  • Aadhar OTP

 1  I would like to e-verify later. Please  remind me. (इसमें यह है कि आप बाद में ITR को प्रमाणित करना चाहते हैं और System से कह रहे हैं कि वह आपको ध्यान दिला दे)

 2  इसमें यह है कि आप ITR को Offline नहीं Verify करना चाहते हैं और Normal या Speed Post के जरिए बेंगलूरु स्थित Income Tax Department आईटीआर-5 की हस्ताक्षरित Copy भेजना चाहते हैं.)

  • इनमें से किसी भी Option को Select कर Continue पर Click करें.
  • अपनी ITR XML File को Attech कर Submit पर Click करें.

अगर आपने आठवें स्टेप में DSC का विकल्प Select किया था तो अपना Digital Signature Attech करिए. अगर Aadhar OTP Select किया हो तो अपने Aadhar नियामक के पास Registered Mobile Number पर आए OTP को भरिए| अगर EVC को चुना हो तो Registered mobile number पर EVC भरिए|

अगर आपने E-verify letter को चुना था तो ITR आपका सबमिट तो हो चुका है लेकिन अभी यह Verify नहीं हुआ है. अगर आपने “I don’t want to e-verify” चुना है तो या तो आप My Account Menu में जाकर E-Verify Return पर Click करें और E-Verify कर दें, या तो आप उसे हस्ताक्षर करके बेंगलूरु भेज दें.

  • ITR को Submit कर दें.
  • Income Tax Return: वेतनभोगी कर्मचारी को भरना होगा ITR-1 ‘सहज’ फॉर्म, इस बार देनी पड़ेगी ये डिटेल

Most Read: Speed Post क्या है Speed Post कैसे करे

 2  Online ITR (Income Tax Return) File

Online Income Tax Return File करने के लिए आपको https://www.incometaxindiaefiling.gov.in/home इस Website पर जाकर Online RTI File करनी होगी जिसके लिए आपको इस Website पर अपना एक Account बनाना होगा बिना Account बनाए आप इस Website पर ITR File नहीं कर सकते।

  • E-Filling में Log In करिए और उसके बाद E-File menu के तहत ITR Select करिए
  • Pan Card उसमें पहले से भरा आएगा अपना Assessment year, ITR Form Number, Filling Type (ओरिजिनल या रिवाइज्ड रिटर्न) और सबमिशन मोड (प्रिपेयर एंड सबमिट ऑनलाइन) चुनें

Income Tax Return File Limit 

दोस्तों वैसे आपको मालू चल गया होगा की ITR Hota Kya Hai अब बात करते है की इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की लिमिट कितनी होती है।

  • 2,50,000 रुपये से कम आय वालो के लिए कोई Tax नही है
  • आपकी किसी एक वित्त वर्ष में कुल सालाना आय 2,50,000 रुपये से ज्यादा है तो आपके लिए ITR भरना जरूरी है।
  • अगर आप नौकरी या कारोबार करते हैं और आपकी कुल सालाना आमदनी 2.5 लाख रुपये से कम है, तब भी आप ITR File कर सकते हैं।
  • अलग Age के Group के लिए 2.5 लाख से 5 लाख तक आय पर 0-5% Tax होता है।
  • करयोग्य आमदनी अगर पांच से दस लाख रुपये है तो आपको Income Tax 20% चुकाना पड़ता है सालाना 10 लाख रुपये से अधिक की करयोग्य आमदनी पर 30% के हिसाब से Income Tax चुकाना पड़ता है।
  • भिन्न लोगो की उम्र के हिसाब से 5 लाख से 10 लाख तक की Income करने वालो के लिए 20% Tax है।

Income Tax Return कैसे निकाले

ITR आपकी आय की मदद से ही निकलता है, जैसे की मान लीजिये आप एक ऐसे व्यक्ति है जो सालाना सिर्फ इतने रूपये कमाते है, जिससे आपका खर्चा चल सके और आप जितना पैसा कमाते है उसके तहत आप Income Tax के दायरे में नहीं आते तो आपको Income Tax नहीं भरना पड़ेगा

Income पर ITR निकालने के लिए आप ITR Calculator का उपयोग कर सकते है जिसे आप Online नेट पर भी चला सकते है. लेकिन अगर आपकी आय Income Tax के दायरे में अति है तो आपको Income Tax भरना पड़ेगा तो इसके लिए आपको ITR निकालनी पड़ेगी।

Most Read: ग्राम प्रधान (Gram Pradhan) क्या है कैसे बने

ITR कैसे भरे पूरी जानकारी (How to Fill Income Tax Return in Hindi)

दोस्तों अब हमलोग बात करेंगे की इनकम टैक्स रिटर्न को कैसे भर सकते है वैसे तो कई सारे तरीके हैं जिससे हमलोग अपना इनकम टैक्स रिटर्न को भर सकते है तो चलिए जानते है इसके बारे में डिटेल्स से।

 1  Create Your Account

दोस्तों सबसे पहले आपको Income Tax Account बनाने के लिए आपको Income Tax की Website पर Income Tax Return Login करना है। यानी की वहां पर आपको Registered Your Self पर Click करना होता है। इसके बाद आपको अपनी Personal detail को भरना है और Register कर लेना है इसके बाद Account बनने के बाद आपको अपनी User Id जो की Pan Card Number होता है जो आपको देना होता है चाहे तो Password भी दे सकते है।

 2  Login Your Account

तो जैसे ही Account बन जाता है इसके बाद Login पर Click करें वहां पर अपनी User Id, Password और Date Of Birth Enter पर Click कर दे ताकि आगे का Process हो सके।

 3  Click Quick E-File ITR

इसके बाद लेफ्ट साइड पर दिए Quick E-File ITR पर क्लिक करके अपनी Return File करना चालू कर सकते है लेकिन Return File करने से पहले आपको यूजर द्वारा दी गयी फॉर्म को आपके पास ही रखे क्योंकि हमें इस फॉर्म पर उसी की Information को डालना है तो Quick E-File ITR पर Click करे।

 4  Select ITR-1

दोस्तों इसके बाद आपके सामने एक पेज ओपन होगा वहां पर आपका Pan Card Number लिखा हुआ दिखाई देगा। ITR Form Name में आपको Salaried Employees के लिए ITR-1 Select करना है इसके बाद आपको Assessment Year अभी 2018-19 Select करना है।

 5  Select Your Pan Card Address

दोस्तों इसके बाद आपके Return में जो आपको Address Fill Up करनी है उसके लिए आपके पास तीन Options होते है आप यहां पर आपके Pan Card में जो एड्रेस होता है उसे यहां सेलेक्ट कर सकते है।

 6  Click Submit Button

दोस्तों अगर Return में आपके पास डिजिटल सिग्नेचर है तो Yes पर Click करे वरना No पर Click करे इसके बाद Last में Submit Button पर Click करे। इसके बाद आपके सबमिट प्रोसेस Yes/No होगा।

जैसे ही आप Submit पर Click करेंगे तब आपके सामने कुछ Instruction Open होंगे जिन्हें आपको ध्यान से पढना है अगर आप इन्हें ध्यान से नहीं पढ़ते है तो आगे आपको Return File करने में Problem पर Click करना है।

 ITR 1:   यह Form उन लोगों के द्वारा भरा जाता है जिन्हें उनकी Salary, पेंशन, या ब्याज से Income होती है तथा जिस व्यक्ति के पास एक मकान हो, उसने House Loan लिया हो उन्हें भी यह Form भरना होता है।

 ITR 2:  यदि आपकी Income Salary, पेंशन या ब्याज के अलावा एक से ज्यादा घर से आने वाले Rate से होती है तो आपको ये वाला Form भरना है। कैपिटल गेन, Dividend और दूसरे Source जैसे– Lottery से प्राप्त होने वाली Income के लिए भी यही फॉर्म Fill करना होता है।

 ITR 3:  यह Form उन लोगों के लिए है जो किसी Firm या Business में Partner है और उसकी आय का स्रोत Firm को होने वाले Profit, Salary, पेंशन और दूसरे साधनों से होने वाली Income से है।

 ITR 4:  यह From सभी Professional व्यक्तियों जैसेवकील, Ca, डॉक्टर आदि के लिए होता है वह व्यक्ति जो किसी Business में Partnership के साथसाथ Professional Income भी प्राप्त करता हो उन्हें यह फॉर्म Fill करना होता है।

इनकम टैक्स रिटर्न भरने की जानकारी (ITR  Personal Information Fill in Hindi)

 1  Arrow Button पर Click करने पर आपको Next Page पर Personal Information की Tab दिखेगे उस पर Click करे। यहाँ आपको start * वाली सभी Field को भरना है जैसे– Locality, Email Address, Mobile Number डालना है अब आपको Employer की Category Select करना है यहां पर आप PSU या Govt में काम करते है उसे Select करे।

 2  अब आपको Tax Status Select करना है यहां पर आपको अपनी Income के हिसाब से Tax Payable को Select करना है। अगर आपके Tax Payable की Figure Tds Amount से ज्यादा कम या बराबर है तो आपको उसके अनुसार इन Option को Select करना है।

 3  Return File Under Section  के Option में अगर आप Due Date से पहले File Return कर रहे है तो इसके लिए On और Due Date Before को Select करे और अगर आप Due Date के बाद File Return कर रहे है तो After Due Date को select करे। Whether Person Govt By Under Section Code हमारे यहाँ पर Applicable नहीं होता इसके लिए No Select करे।

 4  इस Page में अब आपको Income की Detail डालनी है। इस Page पर Data डालने के लिए आपको लगभग 16b का Form चाहिए। जो आपको आपके Employer ने दिया होगा और वह data पूरा का पूरा यहाँ पर डाल दे और Next Button पर Click करे।

 5  आपके Next Employer ने जो TDS Deduct किया है उसकी पूरी detail नजर जाएगी जिसे आपको Click करके Select करना है और Next Button पर Click करना है।

 6  इस Page पर आपको Payable Income मिल जाएँगी निचे आपके जितने भी Bank  Account है उनकी संख्या डाले और उसके बाद आपके Bank का IFSC Code डाले, Name Of Bank, Bank Account Number डाले और Bank Account टाईप Select करे पूरी Detail डालने के बाद Next पर Click करे।

 7  अगला पेज आपका Section 80g का Page है इसमें आपको Donation की Details डालनी है। अगर आपने ऐसी संस्था को Donation दी है जो Section 80g के अंदर Applicable है आप उसकी Details इस Page पर डाल सकते है वरना आप इसे Skip कर दे और Next पर Click कर दे।

 8  यहाँ पर आपको Assets और Liabilities की Details डालनी है यह सिर्फ उन लोगो के लिए है जिनकी Income 50 लाख से ज्यादा है। अगर आपकी Income इतनी नहीं है तो आप इस Page को Ignore कर दे। जब आपने सारी Detail भर ली है तो आप इन सारी Tab में जाकर अपनी Detail को Check करके Satisfy कर ले।

 9  Finally Submit Button पर Click कर दे जैसे ही इस पर Click करेंगे तो आपका Tax Return Submit हो जायेगा इस तरह आपकी Return File करने का Process पूरी हो जायेगा और इसके बाद आपको अपने Return File को Verify करवाना होगा इसके लिए आपके पास तीन चार Option आएंगे।

इन तीन Option में से आप अपने Income Tax Return के लिए Aadhar OTP प्राप्त करना चाहते है इस Option को चुन ले इसके बाद आपके Aadhar Number से Linked Mobile Number पर एक OTP आयेगा OTP डालने के बाद आपको ITR का E-Verification का Message मिल जायेगा तो आप इस तरह से अपना ITR File कर सकते है।

Most Read: बीएसटीसी (BSTC) क्या है कैसे करे 

इनकम टैक्स रिटर्न के फायदे (Benefits of ITR in Hindi)

अगर आपका TDS कट रहा है तो आपको आपका TDS Income Tax Return फाइल करके ही बापिस मिलेगा।

कारोबार करने में ITR की बहुत जरुरत पड़ती है वही अगर आप कोई Government Contract लेना चाहते है तो उसके लिए भी आपको ITR दिखानी होगी।

अगर आप नियमित रूप से ITR File करते रहते है तो आपको Property खरीदने बेचने में कोई परेशानी नहीं होती और ही Income Tax depertment की तरफ से कोई Notice नहीं आता है।

अगर आप ITR भरते है तो इसकी मदद से आपको किसी भी Bank से आसानी से Credit Card या लोन मिल सकता है. इसके लिए आपको उन्हें ITR Statement दिखाना होगा।

अगर किसी व्यक्ति ने गलती से ज्यादा Tax चूका दिया तो ITR File करने से Tax Refund पाया जा सकता है।

यदि आप अपना Business शुरु करना चाहते है तो ITR बहुत जरुरी होता है और अगर किसी Government Department में कुछ समान जनक कार्य पद या ठेका हासिल करना चाहते है तो इसके लिए आपको पिछले 5 सालों का ITR दिखाना होता है।

अगर आप Home Loan या Car Loan लेना चाहते है तो इसके लिए बैंक द्वारा बीते 3 सालों की Income Tax Return Receipt मांगी जाती है। जिससे की आपको Loan लेने में आसानी होती है। क्योंकि 3 Year का लेखा-जोखा देखा जाता है इसलिए बैंक आपको Receipt के आधार पर Loan और अधिक प्रोवाइड कराती है।

अगर कोई व्यक्ति वीज़ा के लिए Apply करता है तो उसमे 3-4 साल का ITR माँगा जायेगा तो जो व्यक्ति समय पर ITR File करता है। उसे वीज़ा मिलने में आसानी होती है।

Conclusion

इस आर्टिकल में आपने ITR ”Income Tax Return” भरने की जानकारी को विस्तार से जाना। जिसमें आपको पता चला कि ITR-Income Tax Return क्या होता है, ITR-Income Tax Return भरने के क्याक्या  Profit  है। साथ ही हमने जाना कि ITR-Income Tax Return के नियम क्या है, ITR-Income Tax Return कैसे भरते है ITR भरने का तरीका क्या है और ITR-Income Tax Return की सीमा कितनी होती है।

अगर अभी भी आपके मन में इस Post से संबंधित कोई Question या सुझाव है तो Comment  में लिख सकते हैं।