पीडीऍफ़ (PDF) का मतलब क्या होता हैं – PDF Meaning in Hindi

हम सब जानते है की आज के समय में हमें पीडीऍफ़ की बहुत जरुरत पड़ती है क्यूंकि अगर आप Online कोई form download करते है तो आपका पीडीऍफ़ फाइल ही डाउनलोड होगा साथ ही अगर आपको किसी के पास कोई documents भेजना है तो आपको PDF File ही भेजना पड़ेगा तो आये हम जानते है की पीडीऍफ़ का मतलब क्या होता हैं (PDF Meaning in Hindi) और PDF kaise banaye इसकी पूरी जानकारी देंगे।

आज के समय में जितने भी जरूरी डॉक्यूमेंट होते हैं, उसे हम पीडीएफ के रूप में सेव करना ज्यादा पसंद करते हैं; क्योंकि इससे हमारा हर डॉक्यूमेंट अलग भी होता है और इसे हम जब चाहे आसानी से पढ़ भी पाते हैं या जिसे चाहे उसे आसानी से शेयर भी कर सकते हैं। किंतु क्या आपको यह पता है कि पीडीएफ होता क्या है तो आज मैं आपको इसी से संबंधित जानकारी देने जा रही हूं।

pdf ka matlab kya hota hai

अगर आपको पीडीऍफ़ के बारे में पूरी जानकारी चाहिए तो आपको पीडीऍफ़ के related सारि जानकारी मिल जाएगी जैसे की पीडीएफ क्या होता है? पीडीएफ कैसे बनता है? पीडीएफ में हम सुरक्षा कैसे प्रदान कर सकते हैं? पीडीऍफ़ शेयर कैसे कर सकते हैं (PDF Share Kaise Kare) पीडीएफ के क्या-क्या फायदे हैं? इन सभी चीजों के बारे में आज के आर्टिकल में मैं आपको बताने जा रही हूं और आशा है आपको यह पढ़कर पीडीएफ से संबंधित अधिकतर जानकारी अवश्य मिल जाएगी।

पीडीऍफ़ क्या है (What is PDF in Hindi)

ऐसा फाइल या दस्तावेज जिसकी हार्ड कॉपी को हम इलेक्ट्रॉनिक रूप में change कर सके; उसे हम आम भाषा में पीडीएफ (pdf) कहते हैं। इसके द्वारा हम डॉक्यूमेंट को पढ़ सकते हैं और किसी के साथ शेयर भी कर सकते हैं साथ ही PDF को Adobe Company ने 1990 में सामने लाया था साथ ही आप PDF को Edit Direct नहीं कर सकते है इसे सिर्फ आप Read कर सकते है।

शुरुआती समय में पीडीएफ का ज्यादातर इस्तेमाल हम कंप्यूटर में ही कर पाते थे, क्योंकि स्मार्टफोन बहुत कम उपयोग किए जाते थे। लेकिन आज एक ऐसा समय आ गया है; जब लोग स्मार्टफोन के जरिए पीडीएफ का use कर पाते हैं और जितनी भी आज के समय में इंटरनेट के द्वारा हम डॉक्यूमेंट डाउनलोड करते हैं, वह भी पीडीएफ फॉर्मेट में ही डाउनलोड होता है।

जैसे:- किसी भी कक्षा का सिलेबस या जॉब्स के नोटिफिकेशन इत्यादि।

शुरुआती समय में सन 1993 से लेकर सन 2008 तक पीडीएफ फॉर्मेट पर केवल Adobe कंपनी का ही हक था। लेकिन बाद में 2008 के बाद इस कंपनी ने लाइसेंस जारी किया, जिसे पब्लिक पेशेंट लाइसेंस कहा जाता है। इसके बाद इस लाइसेंस के जरिए पीडीएफ को फ्री कर दिया गया और इसके बाद कोई भी कंपनी या संस्था आसानी से इसका इस्तेमाल कर सकती थी। जिसे आज के समय में हम भी आसानी से इस्तेमाल कर रहे हैं।

Must Read: कैप्चा कोड (Captcha Code) क्या है

पीडीऍफ़ का मतलब क्या होता है (PDF Meaning in Hindi)

दोस्तों सबसे पहले में आपको बताना चाहता हूँ की pdf ka matlab kya hota hai क्यूंकि इसका full form आपको जानना बहुत जरुरी है तो PDF Meaning in Hindi (Portable Document Format) होता है साथ ही इसका हिंदी में भी पोर्टेबल डॉक्यूमेंट फॉर्मेट होता है जो की आसान भाषा में अगर आपको बताने का कोसिस करें तो PDF का मतलब होता है Document को Portable बनाना साथ ही इस Portable Format को कहीं भी send कर सकते है।

पीडीऍफ़ कैसे बनाते है (How To Make PDF in Hindi)

जब आपने पीडीएफ का नाम सुना और यह जाना की पीडीएफ किया है तो आपके मन में यह प्रश्न अवश्य आया होगा कि यह बनता कैसे है तो आपको मैं बता दूं कि पीडीएफ कैसे बनता है साथ ही में आपको बताना चाहता हूँ की इसके बहुत से तरीका है जो हम आपको बहुत अच्छे से बताऊंगा तो आये जानते है इसकी पूरी जानकारी।

पीडीएफ बनाने के बहुत सारे तरीके हैं जिनमें से कुछ इस प्रकार है:-

 1  कंप्यूटर के द्वारा पीडीएफ बना सकते हैं

अगर आप कंप्यूटर के जरिए पीडीएफ फाइल बनाना चाहते हैं तो आपके कंप्यूटर में माइक्रोसॉफ्ट वर्ड का होना काफी जरूरी है। उसके जरिए आप सबसे पहले डॉक्यूमेंट तैयार करते हैं। जैसे लेटर, बायोडाटा इत्यादि। इस डॉक्यूमेंट को आप फाइल फॉर्मेट करते हैं। इसके उपरांत हम इसे पीडीएफ में बदलते हैं और सेव करके इसे ध्यान से रख लेते हैं।

किंतु ध्यान दे कि जब भी हम word में किसी फाइल को सेव करते हैं तो उस जगह पर save की जगह save as का ऑप्शन आता है। वहां पर आपके सामने कुछ ऑप्शन आते हैं, उसमें आपको doc. की जगह पीडीएफ फॉर्मेट को सेलेक्ट करना होता है। जिससे हमारी जो फाइल  होगी वह पीडीएफ के रूप में सेव हो जाएगी। इस प्रकार आप आसानी से कंप्यूटर या लैपटॉप के जरिए PDF बना सकते हैं डीपी का मतलब क्या होता है

 2  मोबाइल के द्वारा पीडीएफ बना सकते हैं       

अगर आप फोन के द्वारा पीडीएफ बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपके पास एक स्मार्टफोन होना जरूरी है। स्मार्ट फोन में आपको कोई ऐप इंस्टॉल करना होता है। जैसे:- WPS office या google docx. इसके बाद इसमें sign in करना होता है उसके बाद आप डॉक्यूमेंट को 4 option के द्वारा पीडीएफ ऑप्शन पर क्लिक कर सकते हैं। इसके बाद हमें चार ऑप्शन दिए जाते हैं।

जिसमें फाइल को पीडीएफ में बदलने का ऑप्शन होता है। पिक्चर को पीडीएफ में बदलने का ऑप्शन होता है। डॉक्यूमेंट को पीडीएफ में बदलने का ऑप्शन होता है। वेब पेज को पीडीएफ में बदलने का ऑप्शन होता है। उसके तत्पश्चात आप जैसा भी डॉक्यूमेंट हो उसको ऑप्शन के अनुसार choose करके आप उसे पीडीएफ में बदल सकते है।

पीडीऍफ़ को ओपन कैसे करे (How To Open PDF in Hindi)

देखो अगर आपके मन में ये question चल रहा है तो आप pdf को बहुत easy तरीके से Open कर सकते है मेरा कहने का मतलब है की इसके लिए कुछ application मिल जाता है जिसके हेल्प से आप PDF को Open कर सकते है सबसे पहले अगर आप Mobile में Open करना चाहते है तो WPS Office Application से Open कर सकते है और ये application google का ही है तो आप इसे इस्तेमाल कर सकते है।

साथ ही अगर आप Desktop में अपना PDF को open करना चाहते है तो आप MS Word के help से PDF File को open कर सकते है साथ ही इसमें Edit भी कर सकते है इसके अंदर और भी बहुत कुछ कर सकते है जैसे की आप File की Format Change कर सकते है साथ ही में आपको बताना चाहता हूँ की अगर आप PDF को Edit करना चाहते है Online या फिर Convert करना चाहते है PDF to Docs में या फिर और किसी Format में तो आप ये कर सकते है।

मेरा कहने का मतलब है की I Love PDF करके एक application है साथ में इसे आप Web Browser में भी open कर सकते है और इसमें सारा चीज को इस्तेमाल कर सकते है क्यूंकि इसके अंदर बहुत से Tools मिल जाता है जो आपको help करता है PDF को पूरी तरह से easy to use बनाने में क्यूंकि इसके अंदर आप Compress और Format Convert कर सकते है वॉइस आर्टिस्ट (Voice Artist) क्या है कैसे बने

पीडीऍफ़ को कैसे सुरक्षित रखें (How to Secure Pdf)

आज के समय में हम जो भी डॉक्यूमेंट या फाइल बनाते हैं, उसे हम पीडीएफ के रूप में रखना पसंद करते हैं और यह बहुत आसान भी होता है। जिससे लोग यह कहते हैं किंतु कभी-कभी हमारे कुछ डॉक्यूमेंट पर्सनल या फिर निजी होते हैं। जिसे हम दूसरों के साथ शेयर करना पसंद नहीं करते या फिर हमारे किसी डाटा के चोरी होने का खतरा भी होता है। जिस कारण हम चाहते हैं कि यह ऑनलाइन सुरक्षित रहें।

इसीलिए हम ऐसी फाइल बनाना चाहते हैं जो सुरक्षित हो, ऐसे में आप पीडीएफ फॉर्मेट को आसानी से उपयोग करके उसे सुरक्षित रख सकते हैं जब आप पीडीएफ को सुरक्षित रखना चाहते हैं तो आपके मन में सबसे पहला ख्याल यही होता है कि हमारे फाइल को कोई भी आसानी से edit ना कर सके। जैसे आपने कई बार देखा भी होगा कि MS word में बनी जितनी भी फाइल होती है, आप आसानी से उसको edit कर पाते हैं। लेकिन पीडीएफ फाइल के लिए आपको थोड़ी मेहनत करनी पड़ती है, जब आप उसको सुरक्षित इंटरनेट पर रख देते हैं।

पीडीएफ फाइल को सुरक्षित रखने के लिए हम पीडीएस के अंदर पासवर्ड सेट करते हैं। जिससे हर कोई व्यक्ति इसे देख ना सके और ना ही इसके अंदर कुछ और छेड़खानी कर सकें। इसके लिए आपको आधार कार्ड डाउनलोड करते समय यह विकल्प देखने को मिलता होगा। जब भी हम आधार कार्ड की फाइल के पीडीएफ को डाउनलोड करना चाहते हैं तो उसमें हमें पासवर्ड लगा हुआ मिलता है। इस तरह पीडीएफ फाइल में पासवर्ड लगाकर अपने पीडीएफ को सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं।

Must Read: ओटीपी (OTP) क्या होता है 

पीडीऍफ़ को कैसे शेयर करें?

शुरुआती तौर पर कभी भी हमें किसी महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट को किसी दूसरे के यहां भेजना होता था, तब हम उन्हें Courier करके भेजते थे; ताकि उस जरूरी डॉक्यूमेंट को कोई और पढ़ ना ले। किंतु जबसे पीडीएफ का प्रचलन चला है, तब से हम यह भूल ही गए हैं; क्योंकि पीडीएफ के अंदर हम आसानी से फाइल में Security लगाकर हम जिसे चाहे वो डॉक्यूमेंट आसानी से शेयर कर सकते हैं।

मेरा कहने का मतलब है की जब हमलोग किसी के पास कोई document भेजना होता है तो हम Whatsapp और Email के help से send कर देते है साथ ही जीने भी social media होता है सभी के अंदर आप ये PDF को share कर सकते है साथ ही PDF Format में File बहुत अच्छे से send होता है साथी अगर आप Password लगाना चाहते है तो वो भी लगा सकते है।

पीडीऍफ़ इस्तेमाल करने के क्या फायदे हो सकते हैं?

पीडीएफ फाइल जिसका आज के समय में इस्तेमाल दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है क्यूंकि पीडीऍफ़ की जरुरत हर सेक्टर में पढ़ती है जिसके कारण इसका बहुत जाएदा Demand बढ़ रहा है तो मेरा कहने का मतलब है की आपको PDF को सही से इस्तेमाल करना बहुत जरुरी है और में आपको लगभग सभी कुछ बता चूका हूँ इस आर्टिकल के अंदर खेर PDF के अंदर उसके कई सारे फायदे हैं जिसमें से कुछ इस प्रकार है:-

  1. इसमें हमें पीडीएफ को सुरक्षित रखने का ऑप्शन मिलता है।
  2. हम जिसे चाहे उसे पीडीएफ भेज सकते हैं।
  3. हम किसी भी 2 pdf को जोड़कर एक सिंगल पीडीएफ बना सकते हैं जिसे हम आसानी से किसी को भी भेज सकते हैं और उसे पढ़ सकते हैं।
  4. पीडीएफ के अंदर अगर कोई फाइल बड़ी हो जाती है तो हमें उसे छोटा करने का भी सुविधा प्रदान किया गया है, इससे हमें यह फायदा होता है कि हम बड़ी साइज की फाइल को कम करके उसे तेजी से शेयर कर पाते हैं।
  5. आज के समय में इसका इस्तेमाल इतना ज्यादा हो रहा है कि हम आसानी से जिसे चाहे उसे important डॉक्यूमेंट भेज सकते हैं चाहे वह दुनिया के किसी भी कोने में मौजूद हो।
  6. यूआरएल क्या है

पीडीऍफ़ के नुक्सान क्या है (PDF Disadvantage in Hindi)

हम सभी लोग जानते है की हर चीज का कुछ फायदा होता है तो कुछ नुक्सान होता है लेकिन एक बात यह है की किसी किसी चीज का बहुत नुक्सान होता है या फिर बहुत कम नुक्सान होता है तो में आपको बताना चाहता हूँ की इसका बहुत कम ही disadvantage देखने के लिए मिलेगा खेर फिर भी आपको जानना चाहिए इससे आपको जरूर हेल्प मिलेगी।

  • सबसे पहले इसे Read करने के लिए आपको एक application की जरुरत पड़ती है जो थोड़ी सी मुझे disadvantage लगती है।
  • इसमें आपको edit करने के लिए third party application का इस्तेमाल करना पड़ता है।
  • पीडीऍफ़ फाइल की text आप copy नहीं कर सकते है।
  • वैसे PDF का बहुत फायदा है और नुक्सान इसके अंदर बहुत कम देखने के लिए मिलता है।

Conclusion

आज के आर्टिकल में मैंने आपको पीडीएफ से संबंधित जानकारी दी आज मैंने आपको बताया कि पीडीएफ क्या है? (PDF Kya Hai) पीडीएफ कैसे बनता है? पीडीएफ को हम सुरक्षित कैसे रख सकते हैं? पीडीएफ को हम शेयर कैसे कर सकते हैं (Pdf Kaise Share Kare) पीडीएफ के क्या-क्या फायदे हैं? इन सभी चीजों की जानकारी प्रदान की। आशा है आपको यह आर्टिकल पढ़कर पीडीएफ से संबंधित अधिकतर जानकारी अवश्य मिल गई होगी ।

अगर आपको पीडीएफ से संबंधित अभी भी कोई प्रश्न पूछना है तो आप हमें बेझिझक कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं। आपका कमेंट हमारे लिए काफी जरूरी होता है।

धन्यवाद!

Leave a Comment